All Posts Attitude Love Sad Good Morning Good Night English Me

Home Dard Bhari Shayari With Image in Hindi

Dard Bhari Shayari With Image in Hindi Collection

मुझ को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही
मुझ को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही,
ऐ ज़िंदगी तेरी भी मुझे ज़रूरत नहीं रही,
बुझ गये अब उस के इंतेज़ार के वो जलते दिए,
कहीं भी आस-पास उस की आहट नहीं रही।



मुझको तो दर्द-ए-दिल का मज़ा याद आ गया
मुझको तो दर्द-ए-दिल का मज़ा याद आ गया,
तुम क्यों हुए उदास तुम्हें क्या याद आ गया,
कहने को जिंदगी थी बहुत मुख्तसर मगर,
कुछ यूँ बसर हुई कि खुदा याद आ गया।



हम किसी शख्स से तब तक लड़ते है
हम किसी शख्स से तब तक लड़ते है,
जब तक उससे प्यार की उम्मीद होती है,
जिस दिन वो उम्मीद ख़तम हो जाती है,
उस दिन लड़ना भी खत्म हो जाता है।



यह भी देखिए:
कफ़न न डालो मेरे चेहरे पर
कफ़न न डालो मेरे चेहरे पर,
मुझे आदत है गम में मुस्कुराने की,
रूक जाओ आज की रात न दफनाओ,
मेरी मौत से बनी है मुहूर्त उसके आने की।



जो नजर से गुजर जाया करते है
जो नजर से गुजर जाया करते है,
वो सितारे अक्सर टूट जाया करते है।
कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते,
बस चुपचाप बिखर जाया करते है।



तन्हा रहना तो सीख लिया हमने
तन्हा रहना तो सीख लिया हमने,
लेकिन खुश कभी ना रह पाएंगे,
तेरी दूरी तो फिर भी सह लेता ये दिल,
लेकिन तेरी मोहब्बत के बिना ना जी पाएंगे।



उनका भी कभी हम दीदार करते है
उनका भी कभी हम दीदार करते है,
उनसे भी कभी हम प्यार करते है,
क्या करे जो उनको हमारी जरुरत न थी,
पर फिर भी हम उनका इंतज़ार करते है।



यह भी देखिए:
रोने से किसी को पाया नहीं जाता
रोने से किसी को पाया नहीं जाता,
खोने से किसी को भुलाया नहीं जाता,
वक्त सबको मिलता है जिन्दगी बदलने के लिए,
पर जिन्दगी नहीं मिलती वक्त बदलने के लिए।



मत रख हमसे वफा की उम्मीद
मत रख हमसे वफा की उम्मीद,
हमने हर दम बेवफाई पायी है,
मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान,
हमने हर चोट दिल पे खायी है।



हमारी दास्तां उसे कहां कबूल थी
हमारी दास्तां उसे कहां कबूल थी,
मेरी वफायें उसके लिये फिजूल थीं,
कोई आस नहीं लेकिन कोई इतना बतादो,
मैंने चाहा उसे क्या ये मेरी भूल थी।